Sawan Green Bangles: सावन में हरी चूड़ियों का महत्व

Sawan Green Bangles:आपने सावन में महिलाओं को हरी चूड़ियां पहनते देखा होगा।

Sawan Green Bangles: सावन में हरी चूड़ियों का महत्व

हरेक सावन महीने महिला हरी चुरीया पहनती हैं। वास्तव में, इसका धार्मिक महत्व है

क्यों हरा Sawan Green Bangles पहनना चाहिए?

ज्योतिष के अनुसार कहा गया है कि हरा सौभाग्य का रंग है। सावन आते ही हर जगह हरियाली छा जाती है। दरअसल, यह महीना प्राकृतिक जगत से जुड़ने का महीना है। इसलिए शिव को जल अर्पण कर भी हम प्रकृति से जुड़ते हैं। भक्तजन भी इस महीने हरा रंग पहनकर प्रकृति से जुड़ते हैं, जो उनके भाग्य पर प्रभाव डालता है।

प्रेम की सलामती

शास्त्रों में भी प्रकृति को ईश्वर का रूप मानकर पूजा जाती है। हरा कपड़ा पहनने वालों पर प्रकृति इस महीने विशेष कृपा करती है। महिलाएं हरे रंग की चूडि़यां और सुहाग की चीजें पहनकर प्रकृति से जुड़ती हैं, जिससे वे  सुहाग की सलामती का आर्शीवाद पाती है।

करियर और संबंध

बुद्ध ग्रह का रंग हरा है। बुद्ध ग्रह व्यवसाय और करियर से जुड़ा हुआ है। ऐसे में हरा कपड़ा पहनना बुद्ध को खुश करता है और सुहागिनों के घर में सौभाग्य और धन लाता है।

महादेव  प्रसन्न होते हैं

सावन में हरा रंग पहनना भगवान शिव को खुश करता है। भगवान शंकर का प्रकृति से विशेष संबंध है, इसलिए भक्त जब अपने आप को प्रकृति के अनुरूप बनाते हैं, तो वे बहुत खुश होते हैं और अपनी मनोकामनाओं को पूरा करते हैं। सावन में हरे रंग की चूड़ियां पहनने वाली महिलाएं भी देवताओं से प्रसन्न होती हैं।

शादीशुदा जीवन का सुख

हरा-हरा रंग उर्वरता, बहुलता, सौभाग्य और प्रकृति का प्रतीक है। हरा एक उपचार का भी  रंग है और दिल की बीमारी और उच्च रक्तचाप के लिए अच्छा माना जाता है। जिन शादीशुदा जोड़े के जीवन में विवाद चल रहा है, वे अपने बेडरुम के दक्षिण-दक्षिण पूर्व भाग को हरे रंग से पेंट कर सकते हैं। इससे लाभ मिलता है |

Scroll to Top