Wheat Variety Benefits:गेहूं की ये उन्नत किस्में उपज कर लिया तो, लाओगे ट्रक में भर कर रुपिया, जानें

Wheat Variety Benefits:गेहूं की ये उन्नत किस्में उपज कर लिया तो, लाओगे ट्रक में भर कर रुपिया, जानें

Wheat Variety Benefits:गेहूं की ये उन्नत किस्में उपज कर लिया तो, लाओगे ट्रक में भर कर रुपिया, जानें

Wheat Variety Benefits:भारत एक कृषि प्रधान देश है और यहां के किसान खेती के लिए अच्छे बीजों की तलाश में रहते हैं। गेहूं एक महत्वपूर्ण रबी मौसम की फसल है और किसान इसे अच्छे बीजों से उगाना चाहते हैं ताकि उन्हें बेहतर पैदावार मिले और अधिक मुनाफा हो। इस लेख में, हम आपको गेहूं की उन्नत किस्मों के बारे में जानकारी देंगे, जो किसानों को बंपर पैदावार देने की क्षमता रखती हैं।

Wheat Variety Benefits: गेहूं की उन्नत किस्में

  1. पूसा मंगल Hi- 8713
    • यह गेहूं की एक उन्नत किस्म है जिसे कठिया गेहूं की किस्म कहा जाता है।
    • इसके दाने मोटे, बड़े और कम चमकदार होते हैं।
    • इसका उपयोग दलिया, सूजी और पास्ता में किया जाता है।
    • बुआई की अवधि 130 से 140 दिन होती है और प्रति एकड़ 32 क्विंटल से अधिक उत्पादन कर सकती है।
  2. पूसा पोषण Hi – 8663
    • इस किस्म से प्रति हेक्टेयर 95.32 क्विंटल उत्पादन हो सकता है।
    • इसमें प्रोटीन और विटामिन से भरपूर होता है और सूजी, पास्ता, और मैकरोनी जैसे खाद्य पदार्थों के लिए उपयुक्त है।
    • बुआई के लिए नवंबर का महीना सबसे उपयुक्त माना जाता है और यह 120-130 दिन में पक जाता है।
  3. पूसा तेजस- 8759
    • यह किस्म ब्लास्ट रोग, गेरुआ रोग, कंडवा, करनाल बंट रोगों के प्रति प्रतिरोधी है।
    • इसमें आयरन, जिंक और महत्वपूर्ण खनिज भारी मात्रा में मौजूद होते हैं।
    • इसकी पदार्थों से बनाए जाने वाले खाद्य पदार्थों में प्रोटीन की अधिक मात्रा होती है।
    • बुआई के लिए नवंबर का महीना सबसे उपयुक्त माना जाता है और इसकी पैदावार 65 से 75 हेक्टेयर होती है।
  4. पूसा मालवी (HI 8737)
    • यह किस्म मिट्टी में सूक्ष्म पोषक तत्वों की पूर्ति करती है और मालवी गेहूं प्रोटीन और विटामिन से भरपूर है।
    • इसका उपयोग रोटी, सूजी, पास्ता, दलिया आदि के खाद्य पदार्थों के निर्माण में किया जा सकता है।
    • इस किस्म की बुआई के लिए नवंबर का महीना सबसे उपयुक्त माना जाता है और इसकी पैदावार 65 से 70 हेक्टेयर होती है।

गेहूं की उन्नत किस्में किसानों को बंपर पैदावार देने की क्षमता रखती हैं और उन्हें अधिक मुनाफा कमाने में मदद करती हैं। यदि आप गेहूं की खेती करते हैं, तो इन उन्नत किस्मों को अपने खेतों में बोने और अच्छी पैदावार हासिल करें।

पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQs)

  1. क्या गेहूं की उन्नत किस्मों के बीज उपलब्ध हैं?
    • हां, गेहूं की उन्नत किस्मों के बीज कृषि दुकानों में उपलब्ध होते हैं।
  2. कैसे पता करें कि मेरे खेत के लिए कौनसी किस्म सबसे उपयुक्त है?
    • आपके खेत की मिट्टी, जलवायु, और सम्भावित बीज की मांग के आधार पर किस्म का चयन करें।
  3. क्या गेहूं की उन्नत किस्मों का अधिक पैदावार देने का कोई विशेष तरीका होता है?
    • हां, उन्नत किस्मों के लिए सही खेती प्रथाओं और समय-समय पर सिंचाई का पालन करना महत्वपूर्ण है।
  4. कौनसा मौसम गेहूं की उन्नत किस्मों के लिए सबसे उपयुक्त होता है?
    • गेहूं की उन्नत किस्में ठंडी क्षेत्रों में अच्छी तरह से फसल देती हैं, लेकिन उन्नत किस्मों के बारे में अपने स्थानीय कृषि विशेषज्ञ से सलाह लें।
  5. क्या गेहूं की उन्नत किस्मों की बीज कीमत अधिक होती है?
    • हां, गेहूं की उन्नत किस्मों के बीज आम बीजों की तुलना में थोड़े महंगे हो सकते हैं, लेकिन उनके पैदावार में भरपूर विस्तार होता है।

इस लेख में गेहूं की उन्नत किस्मों के बारे में जानकारी दी गई है, जो किसानों के लिए अधिक मुनाफा कमाने में मदद कर सकती हैं। इन किस्मों को अपने खेतों में उगाने के लिए उपयुक्त खेती प्रथाएं अपनाएं और अच्छे पैदावार हासिल करें।

Scroll to Top